Google Page Experience Update 2021 | Web Vital क्या है?

Google Page Experience

Hello Friends! अगर आप एक blogger है तो आपको Google के किसी Algorithm Update आने पर कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है तो दोस्तों ऐसे ही एक update के बारे में हम इस post में बात करने वाले है जी हाँ दोस्तों हम बात करने वाले है Google Page Experience Update 2021 या Google के Latest Algorithm update के सभी aspect के बारे में, साथ ही हम बात करने वाले है SEO में Web Vitals, LCP, FID, CLS क्या है तो चलिए दोस्तों शुरू करते है Google Page Experience Update-


New SEO Ranking Factor


दोस्तों Google Page Experience Update 2021, SEO का एक बहुत ही important part है जो की आपकी वेबसाइट की ranking को improve करने में सहायक है।

Google के द्वारा Google Page Experience का announcement कर दिया गया है।Google Page Experience आने वाले वर्ष 2021 में roll out हो जाएगा। Google ने पहले ही 28 मई 2020 को इस update के बारे में announcement कर दिया है। हाल ही में Google ने नए algorithm update के बारे में officially announcement किया है और इसे 2021 में lounch किया जाएगा। 

किसी भी Website के Page Experience को measure करने के लिए कई aspects हैं। 

दोस्तों आपके मन में एक विचार जरुर आ रहा होगा कि Google ने इस update की घोषणा पहले ही क्यों की?

इसके बारे में मैं आपको बता दूँ कि इससे Web developer को web pages के Experience पर काम करने के लिए अधिकतम समय मिल जायेगा क्योंकि वेबसाइट बनाने के लिए web developer ही Responsible होता है Page का Experience अच्छा हो इसके लिए वे अभी से काम start करके उन्हें ठीक कर ले ताकि जब यह update Roll Out हो जाएगा तब आपके web page का Experience अच्छा हो। 

Page Experience के द्वारा Google या search engine यह identify करता है की आपकी वेबसाइट का performance कैसा है? अगर आपकी Website का Page Experience अच्छा है तो आपकी Ranking भी improve होगी और आपका page top पर आपने लगेगा और अगर आपका Page Experience अच्छा नहीं है तो आपकी Ranking Down भी हो सकती है चाहे आपका page google के top में क्यों नही show होता हो।          

तो दोस्तों इस algorithm के update होने से पहले आपको आपके वेबसाइट के Page Experience को improve करना होगा ताकि आपकी rank improve हो न की down.


Web Vitals  

Google ने Website के Page Experience को improve करने के लिए कुछ aspects या criteria decide किया है जिन्हें Web Vital कहते है। इनमें आते है LCP, FID तथा CLS


LCP-FID-CLS


Largest Contentful Paint (LCP): LCP Browser में एक Webpage के loading performance को decide करता है और मापता है। एक अच्छा user experience provide करना आवश्यक है LCP Google Page Experience के time के अनुसार होना चाहिए। जो 2.5 सेकंड LCP के लिए Google द्वारा निर्धारित समय है। मतलब 2.5 Second के अन्दर आपका page load हो जाना चाहिए 

First Input Delay (FID): FID Webpage पर की गई activities को measures है, यह मापता है कि user को webpage के intrect करने में कितना समय लगता है। FID का time 100 मिलीसेकंड है।

Cumulative Layout Shift (CLS): CLS visual stability को मापता है जैसे popups और ads को लोड करने में कितना time लगता है आदि Google के अनुसार Cumulative Layout Shift का time 0.1 सेकंड है।


Web Vitals कैसे Measure करें 

Core Web Vitals Mesaure करने के लिए आपको Google Search Console में login करना है इसके बाद आपको left sidebar में Enhancements पर Click करना है

अब आपके सामने एक Core Web Vitals की information show हो गई होगी अगर नही show हो रही है तो आपको वहां Try PageSpeed Insights लिखा हुआ दिख रहा होगा, अब आप उस पर click करेंगे तो आपको आपके webpage या website के Vitals जैसे- LCP, FID, CLS आदि information मिल जाएगी

दोस्तों इन्ही aspects को improve करके आप अपने web page की ranking improve कर सकते है इसके लिए आपको निम्न बातों का ध्यान रखना चाहिए-

  • आपकी Website secure है या नही 
  • आपकी वेबसाइट malware infacted तो नही है। 
  • Website Mobile friendly है या नही 
  • Loading Time 
  • Content quality & Stability 


इसके द्वारा आप page speed भी check कर सकते है

तो दोस्तों Google के कई updates आते रहते है लेकिन Google Page Experience की सुचना गूगल ने जल्दी इसलिए दी ताकि आप अपने content, page speed, loading time और कुल मिलके कहें तो Page Experience को improve कर सकें। ताकि आपकी Ranking down न हो 

    
--------------------------------------------------------------------------------------
तो दोस्तों बिना देर किये अपने Google Page Experience को improve करने में लग जाइये 
आज के इस post में इतना ही, आशा करता हूँ यह post आपको अच्छा लगा होगा अगर कोई प्रश्न हो तो comment के माध्यम से पूछियेगा धन्यवाद   

Post a Comment

2 Comments